प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ग्रामीण आवास योजना की शुरुआत की है। यह ग्रामीण आवास योजान को 20 नवंबर 2016 को प्रधानमंत्री द्वारा लागु किया गया था। इस योजना के अंतर्गत ग्राणीण छेत्रो में 2022 तक सभी लोगो को आवास प्रदान किया जायेगा। इस योजना में सरकार ने दिल्ली और चंडीगढ़ को छोड़कर बाकि सभी ग्रामीण छेत्रो में लागु किया है।

प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना की मुख्य विशेषताएं

इस योजना में सरकार अगले तीन सालो में गरीबो के लिए एक करोड़ आवास बनाने का निर्माण करेगी। इस योजना के लिए सरकार ने 2018-19 तक 1,30,075 करोड़ रूपए का बजट तय किया है।इस परियोजना को 2016-17 से 2018-19 तक तीन वर्षों की अवधि में 81 करोड़ रुपए के बजट के साथ लागू की जाएगी।

  • इस योजना के तहत पारदर्शिता एवं निष्पक्षता को सुनिश्चित करने के लिए लाभार्थियों की पहचान हेतु जनगणना सूची की सहयता ली जा रही है।
  • इस योजना में लाभार्थियों के वार्षिक सूची को ग्राम सभा द्वारा अनुमोदित करने में सहभागिता को ध्यान में रखा जाएगा और सूची में किसी भी परिवर्तन को ग्राम सभा द्वारा लिखित में न्यायसंगत में साबित करना होगा
  • इससे पहले कोई भी लाभार्थी इसी योजना का लाभ पाया है तोह इस योजना का पात्र नहीं मन जायेगा।
  • इस योजना में मकानों के निर्माण की लागत केंद्र एवं राज्य सरकार द्वारा पहाड़ी एवं उत्तर-पूर्वी क्षेत्रों में 90:10 के अनुपात तथा में मैदानी क्षेत्रों में 60:40 के अनुपात में रखा गया है।
  • इस योजना के लिए भारत सरकार पहाड़ी क्षेत्रों में 1.30 लाख और मदनी क्षेत्रों में 1.20 लाख की वित्तीय सहायता प्रदान करेगी।
  • इस योजना के साथ साथ स्वच्छ भारत ,मिशन के माध्यम से घर में है शौचालय बनाने के लिए 12,000 रुपये की अतिरिक्त मदद प्रदान की जाएगी ।
  • इस योजना के अंतर्गत इसकी लोन राशि को 70 हज़ार रूपये से 2लाख रूपए तक लोन ले सकते है और इस होम लोन में 3 प्रतिशत तक की ब्याज दरों काम की जाएगी।
  • इस योजना में आवास के क्षेत्रफल को 20 से 25 वर्ग मीटर कर दिया जाएगा जिसमें खाना पकाने के लिए अलग से स्थान भी शामिल होगा।

ग्रामीण आवास योजन आवेदन से जुड़े पात्र :-

  • इस योजना में ऐसे परिवार जिनमे 18 से 59 वर्ष तक कोई भी वयस्क न हो।
  • इस योजना के अंतर्गत लाभार्थी 2011 के बीपीएल कार्ड सूचि के अकड़े के अनुसार सभी बेघर लोग और कच्ची
  • दीवार के बने हुए कमरे और बिना छत के माकन में रहने वाले शामिल होंगे ।
  • इस योजन में आय दर दिहाड़ी मजदूरी करने वाला परिवार शामिल है।

इस आवास योजना से जुडी अधिक जानकारी के लिए अधिकारी वेबसाइट http://pmayg.nic.in पर जाये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *